राष्ट्रीय प्रतिभा खोज मेघा छात्रवृति परीक्षा में दरगाहीगंज के छात्र- छात्राओं का सफल होना, अररिया जिला के लिए गौरव की बात।

जी हां ,अररिया जिला के लिए बहुत ही गौरव की बात है कि ग्रामीण सुदूर क्षेत्र से छात्र-छात्राओं राष्ट्रीय प्रतिभा खोज मेघा छात्रवृति परीक्षा में सफल होकर अपना परचम लहरा रहे हैं।

आइए जानते हैं सच्चाई क्या है।

राष्ट्रीय आय सह मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा प्रत्येक वर्ष होती है इस में सफल होने वाले छात्र-छात्राओं को भारत सरकार के द्वारा प्रति माह 1200 रुपैया दी जाती है और यह सुविधा इंटर लेवल तक है।

अररिया जिला के नरपतगंज प्रखंड के अंतर्गत दरगाहीगंज मध्य विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने राष्ट्रीय प्रतिभा खोज मेघा छात्रवृति परीक्षा में सफल होकर वाकई में परचम लहराने का काम किया है।

नरपतगंज प्रखंड के अंतर्गत पिछड़े हुए ग्रामीण क्षेत्रों में दरगाही गंज मध्य विद्यालय एक स्कूल है उस स्कूल का प्रधानाध्यापक अवधेश कुमार हैं ,जिसके नेतृत्व में इस स्कूल की कायाकल्प ही पलट गई है, यदि आप  स्कूल में प्रवेश करेंगे, तो मानो सरकारी स्कूल ना हो बल्कि संगठित एक प्राइवेट स्कूल हो, ऐसा इसलिए है कि इस स्कूल का विधि व्यवस्था यदि आप देख लेंगे  तो निश्चित रूप से हैरत में पड़ जाएंगे, क्या यह बिहार के सरकारी स्कूल है?

इसी स्कूल के छात्र अखिलेश कुमार( पिता अरुण यादव) और छात्राएं ज्योति कुमारी( पिता खगेंद्र यादव) ने राष्ट्रीय लेवल पर होने वाले छात्रवृत्ति परीक्षा में सफल हो कर यह साबित कर दिया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में पढ़ने वाले  छात्र-छात्राओं का टैलेंट कितना है।

अररिया जिला के शिक्षा पदाधिकारी डीपीओ शौकत अली ने इन दोनों छात्र- छात्राओं को हिंदुस्तान न्यूज़ लाइव के माध्यम से ढेर सारी शुभकामनाएं दी है, तथा साथ ही उज्जवल भविष्य की कामना भी की है । उन्होंने कहा, यह उनके लिए गौरव की बात है कि ग्रामीण क्षेत्र से बच्चे राष्ट्रीय लेवल पर होने वाले मेघा छात्रवृति परीक्षा में सफल हो रहे हैं।

वहीं बीजेपी युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार ने हिंदुस्तान न्यूज़ लाइव के माध्यम से दोनों छात्र- छात्राओं को ढेर सारी शुभकामनाएं दी है और उन्होंने बताया कि अररिया जैसे- पिछड़े हुए जिला में इन बच्चों के द्वारा राष्ट्रीय लेवल पर परीक्षा में सफल होना वाकई में गौरव की बात है। बीजेपी के संगठन के द्वारा इन दोनों बच्चों को सम्मानित किया जाएगा। यह दोनों बच्चे ने यह साबित कर दिया कि हम किसी से कम नहीं। हिंदुस्तान न्यूज़ लाइव ने दरगाही गंज ,गांव जाकर यह जानने का प्रयास  अभिभावक से किया, किस तरह से यह बच्चा सफल हुए। ग्रामीणों ने बताया कि इन बच्चों के सफल होने के पीछे स्कूल के प्रधानाध्यापक ,अवधेश कुमार का बहुत बड़ा योगदान है । उन्हीं के बदौलत और उन्ही के मार्गदर्शन के कारण इस क्षेत्र के बच्चे सफल हो रहे हैं। निस्वार्थ भावना से वह हमेशा बच्चों के प्रति योगदान देने हेतु तत्पर रहते हैं। स्कूल टाइम ऑफ होने के बाद इस तरह के परीक्षा के लिए पढ़ाई करवाते हैं, ग्रामीण क्षेत्र के अभिभावक में खुशी की लहर दौड़ गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *